हाईकोर्ट एडवाइजरी कमिटी से नाराज़ जिला अधिवक्ता संघ

जबलपुर/न्यूज लाइफ/ऑनलाइन। जिला अधिवक्ता संघ जबलपुर के सचिव राजेश तिवारी द्वारा जारी विज्ञप्ति में बताया गया कि कोरोना महामारी के कारण उत्पन्न परिस्थितियों की वजह से मार्च माह से आज  तक न्यायिक कार्य सुचारू रूप से संचालित नहीं हो पा रहा है। विगत सात माह की अवधि व्यतीत हो जाने के उपरांत भी सितंबर माह समाप्त हो जाने एवं संपूर्ण प्रकार से लॉकडाउन की प्रक्रिया समाप्त होने एवं अनलॉक 5 की प्रक्रिया जारी होने के पश्चात भी केंद्र शासन एवं राज्य शासन एवं माननीय सर्वोच्च न्यायालय एवं माननीय उच्च न्यायालय द्वारा पर्याप्त समय व्यतीत होने के बाद भी न्याय प्रक्रिया आरंभ किए जाने के कोई निर्देश जारी नहीं किए गए हैं। पूरे देश में लगभग सभी सरकारी सेवाएं एवं अन्य संचालित सेवाएं आरंभ की जा चुकी हैं। कोविड-19 के कारण अधिवक्ताओं को आर्थिक कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है और माननीय मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय की एडवाइजरी कमेटी के द्वारा लगातार एक-एक सप्ताह की अवधि बढ़ाकर न्यायालीन कार्य संबंधी प्रक्रिया स्थगित रखी गई है। जिससे अधिवक्ताओं के कार्य लगातार 7 माह से बाधित हो रहे हैं। उपरोक्त परिस्थितियों को देखते हुए जिला अधिवक्ता संघ जबलपुर द्वारा अग्रिम विरोध संबंधी प्रक्रिया शुरू करने का निर्णय लिया गया है। इस संबंध में कार्यकारिणी सभा में जिला अधिवक्ता संघ जबलपुर के अध्यक्ष सुधीर नायक, उपाध्यक्ष एच आर नायडू, महिला उपाध्यक्ष श्रीमती मंजू सिंह, सह सचिव ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी, कोषाध्यक्ष गोपाल पटेल, पुस्तकालय सचिव अमित कुमार साहू, कार्यकारिणी सदस्य सुश्री ज्योति कुरील,अजय दुबे, प्रदीप परसाई, श्रीमती मधु राणा, अमित आचार्य, मनोज तिवारी, ऋषि कुमार सिंघाला आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

© Newslife India Developed By GSoft Technologies